भारत सरकार

राजस्व विभाग

वित्त मंत्रालय

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड

 

नई दिल्ली, 4 मार्च, 2021

 

प्रेस विज्ञप्ति

आयकर विभाग द्वारा तमिलनाडू में तलाशी अभियान

आयकर विभाग की ओर से दक्षिण तमिलनाडू में सिविल ठेकेदारों के दो समूहों के खिलाफ 03.03.2021 को तलाशी और जब्ती कार्रवाई की गई है। तलाशी और सर्वेक्षण मुख्यत: मदुरई और रामनाद जिलों में 18 परिसरों पर की गई।

व्यापारिक समूह के खिलाफ नकदी, जिसको चुनाव उद्देश्यों के लिए वितरित किया जा सकता है, की मौजूदगी के बारे में गुप्त सूचना के आधार पर तलाशी की गई। इस कार्रवाई की मदद से रू. 3 करोड़ की बेहिसाब नकदी का पता लगाया गया जिसे जब्त कर लिया गया है।

इस तथ्य की पहचान सहित अन्य जांच की निर्धारिती लाभ को कम दिखाने के लिए विभिन्न शीर्षकों के अंतर्गत फर्जी व्यय की बुकिंग कर रहा है। घोषित किया गया लाभ करोबार के 2 प्रतिशत से भी कम है जबकि वास्तविक खातों में लाभ 20 प्रतिशत से अधिक है। इसी प्रकार 100 से अधिक उप-ठेकेदारों को अवैध भुगतान और संपत्ति की खरीद के लिए राशि को पूरा करने के लिए बही व्यय का प्रयोग किया गया। इन प्रस्तावित उप-ठेकेदार ने एक ही आईपी एड्रेस से आय की विवरणी दाखिल की थी और पहली बार उनकी एकमात्र आय के तौर पर रसीद को ही दर्शाया।

तलाशी की मदद से रू. 175 करोड़ की बेहिसाब आय का पता लगाया गया और रू. 3 करोड़ के बेहिसाब नकदी को जब्त किया गया।

आगे की जांच चल रही है।

 

(सुरभि आहलूवालिया)

आयकर आयुक्त

(मीडिया व तकनीकी नीति)

आधिकारिक प्रवक्ता, सीबीडीटी