भारत सरकार

राजस्व विभाग

वित्त मंत्रालय

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड

 

नई दिल्ली, 22 फरवरी, 2021

 

प्रेस विज्ञप्ति

आयकर विभाग द्वारा भोपाल में तलाशी अभियान

आयकर विभाग की ओर से 18.02.2021 को मध्य प्रदेश के बेतुल और सतना, मुंबई और महाराष्ट्र के सोलापुर और कोलकाता में बेतुल स्थित सोया उत्पाद विनिर्माण समूह के 22 परिसरों पर तलाशी और जब्ती अभियान चलाया गया।

तलाशी के दौरान रू. 8 करोड़ से अधिक की बेहिसाब नकदी और रू. 44 लाख से अधिक की विभिन्न देशों की बेहिसाब विदेशी मुद्रा को जब्त किया गया। तलाशी के दौरान 9 बैंक लॉकरों का भी पता चला।

समूह ने कोलकाता स्थित फर्जी कंपनियों से बडे़ प्रीमियम पर शेयर पूंजी को प्रस्तुत करके रू. 259 करोड़ की बेहिसाब आय को प्रस्तुत किया।

समूह ने फर्जी कंपनियों से कोलकाता की अन्य फर्जी कंपनियों कागजी निवेशों की बिक्री के रूप में अपने बही खातों में रू. 90 करोड़ की बेहिसाब आय को भी प्रस्तुत किया। दोनों ही कंपनियां उनके दिखाए गए पते पर नहीं मिली और समूह ऐसी कागजी कंपनियों या उसके किसी भी निदेशक की पहचान नहीं कर सका। इनमें से कई कागजी कंपनियां कार्पोरेट मामला मंत्रालय द्वारा बंद पाई गई थी।

तलाशी के दौरान यह देखा गया कि इंट्रा ग्रुप आउट-आफ-एक्सचेंज अनुबंध समझौते में शामिल होते हुए समूह द्वारा रू. 52 करोड़ की कीमत की फर्जी क्षति का दावा अपने लाभों को छुपाकर किया गया। यह लेनदेन करने के लिए कर्मचारियों के नाम पर विभिन्न कंपनियां बनाई गई, जबकि उनके बीच कोई वास्तविक व्यापार नहीं हुआ था। इन कंपनियों के निदेशकों को ऐसे किसी लेनदेन के बारे में जानकारी नहीं थी।

समूह ने एक समूह उद्यम के शेयरों की बिक्री पर रू. 27 करोड़ से अधिक की गलत दीर्घकालीन पूंजीगत प्राप्तियों का दावा भी किया। जांच में खुलासा हुआ कि इन शेयरों की खरीद वास्तविक नही थी चूंकि समूह के निदेशकों ने इस उद्यम के शेयर कोलकाता में गैर-स्थित फर्जी कंपनी से सामान्य कीमत पर खरीदे थे। समूह के प्रमुख व्यक्तियों की बातचीत सहित विभिन्न प्रकार के प्रमाण रू. 15 करोड़ से अधिक के हवाला लेनदेन और अस्पष्ट नकद भुगतान को दर्शाते हैं।

लैपटॉप, हार्ड ड्राईव, पेन ड्राईव आदि जैसे डिजिटल मीडिया के रूप में असाक्ष्यपूर्ण प्रमाण मिले जिनको जब्त किया गया। अभी तक की जांच से, रू. 450 करोड़ से अधिक की अघोषित आय का पता चला है।

आगे, की जांच चल रही है।

 

(सुरभि आहलूवालिया)

आयकर आयुक्त

(मीडिया व तकनीकी नीति)

आधिकारिक प्रवक्ता, सीबीडीटी