भारत सरकार

राजस्व विभाग

वित्त मंत्रालय

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड

 

नई दिल्ली, 11 फरवरी, 2021

 

प्रेस विज्ञप्ति

 

आयकर विभाग द्वारा बेंगलूरू में तलाशी अभियान

 

आयकर विभाग की ओर से 09.02.2021 को बेंगलूरू स्थित एक मुख्य शराब विनिर्माता के खिलाफ देशभर के 26 विभिन्न स्थानों पर तलाशी और जब्ती अभियान चलाया गया। इस समूह के पास बड़ी मात्रा में भूमि है जिसे बेंगलूरू स्थित एक बिल्डर के साथ मिलकर आवासीय और वाणिज्यिक संपत्तियों में विकसित किया जा रहा है। तलाशी के दौरान बेंगलूरू स्थित एक प्रमुख बिल्डर के साथ संयुक्त विकास परियोजनाओं के नाम पर रू. 692.82 करोड़ से अधिक की आय को छुपाने की बात सामने आई। साथ ही समूह ने रू. 86 करोड़ की कीमत के व्ययों का धोखे से दावा किया। उनके शराब के व्यापार के संदर्भ में, केरल स्थित उनके एक प्रमुख शराब विनिर्माता से रू. 74 करोड़ की कीमत के बेहिसाब बिक्री का पता लगाया गया। समूह कंपनियों ने अपनी व्यापारिक उद्यमों में रू. 17 करोड़ के नकली व्ययों का दावा भी किया। समूह के निदेशकों ने आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 69ग के प्रावधानों को लगाते हुए रू. 9 करोड़ के बेहिसाब व्यय किया।

बड़ी मात्रा में कई वर्षों तक अपने कर्मचारियों और सहायकों के नाम पर बेनामी संपत्तियों में निवेश किया गया। अभी तक उनके रिश्तदारों और सहायकों के नाम पर कुल 35 संदेहास्पद बेनामी संपत्तियों का पता लगा है जिनकी कुल कीमत रू. 150 करोड़ से अधिक बताई गई है। समूह कंपनी के एक निदेशक के नाम पर विदेशी परिसंपतियों के प्रमाण भी मिले।

कुल मिलाकर तलाशी और जब्ती अभियान से रू. 878.82 करोड़ की बेहिसाब आय का पता चला।

आगे की जांच चल रही है

 

(सुरभि आहलूवालिया)

आयकर आयुक्त

(मीडिया व तकनीकी नीति)

आधिकारिक प्रवक्ता, सीबीडीटी