भारत सरकार

राजस्व विभाग

वित्त मंत्रालय

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड

 

नई दिल्ली, 06 नवंबर, 2020

 

प्रेस विज्ञप्ति

आयकर विभाग द्वारा पश्चिम बंगाल में तलाशी अभियान

 

आयकर विभाग ने पश्चिम बंगाल के एक प्रमुख कोयला व्यापारी के मामले में 05.11.2020 को तलाशी अभियान चलाया। इनके परिसर रानीगंज, आसनसोल, पुरूलिया और कोलकाता में मौजूद हैं। तलाशी गुप्त सूचना के आधार पर की गई जिससे संकेत मिला कि बड़े स्तर पर बेहिसाब नकद को जनरेट किया गया और विभिन्न उद्देश्यों के लिए प्रयोग किया गया।

इस तलाशी से ऐसे दस्तावेजों को जब्त करने में मदद मिली जो इस बात की ओर इशारा करते हैं कि निर्धारिती समूह ने लगभग रू. 150 करोड़ की कीमत के संबंधित गैर उद्धृत ईक्विटी शेयरों में नकली निवेश किया, जिसमें से लगभग रू. 145 करोड़ के निवेश को बेचा गया। यह बिक्री लेनदेन नकली लेनदेन पाए गए थे और तलाशी के दौरान ब्यौरे को रिकॉर्ड करने के दौरान निर्धारिती ने इसे स्वीकार किया था।

तलाशी के दौरान बड़ी मात्रा में भेदभावपूर्ण दस्तावेजों को भी जब्त किया गया जिससे पता चला कि कोयले और रेत के व्यापार से, स्पंज आयरन की बिक्री आदि से नकदी अर्जित की गई। ऐसे दस्तावेजों को भी जब्त किया गया जो कोयले के परिवहन संबंधी सुविधा और विभिन्न व्यापारिक गतिवधियों के संबंध में बड़ी मात्रा में बेहिसाब व्यय की ओर इशारा करते थे।

इस तलाशी से बेहिसाब नकदी और लगभग रू. 7.3 करोड़ के बुलियन को जब्त करने में मदद मिली।

आगे की जांच चल रही है।

 

(सुरभि आहलूवालिया)

आयकर आयुक्त

(मीडिया व तकनीकी नीति)

आधिकारिक प्रवक्ता, सीबीडीटी